HomeSHARE MARKETHammer Candlestick Pattern क्या है? Hammer Candlestick Pattern in Hindi

Hammer Candlestick Pattern क्या है? Hammer Candlestick Pattern in Hindi

अगर आप शेयर बाजार में Trading करते हैं तो आप लोगों को हैमर कैंडलेस्टिक पैटर्न (Hammer Candlestick Pattern) के बारे में जरूर मालूम होगा। इसका इस्तेमाल अधिकांश Share Market में पैसे लगाने वाले लोग किया करते हैं।

ऐसे में अगर आप नहीं जानते हैं कि हैमर कैंडलेस्टिक पैटर्न क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे शेयर बाजार में ट्रेडिंग के लिए किया जाता है तो आप इस आर्टिकल Hammer Candlestick Pattern क्या है? (Hammer Candlestick Pattern in Hindi) को अंत तक पढ़कर सभी जानकारी जान सकते है तो आइये जाने। 

Hammer Candlestick Pattern क्या है? (Hammer Candlestick Pattern in Hindi)

Hammer Candlestick एक सिंगल कैंडलेस्टिक पैटर्न है। इसकी उत्पत्ति जापान में हुई थी इसे जापानी कैंडलेस्टिक पैटर्न के नाम से भी जाना जाता है। Trading की दुनिया में हैमर कैंडलेस्टिक पैटर्न का एक अहम स्थान है हैमर कैंडलेस्टिक को Candlestick Bullish Reversal Patterns भी कहा जाता है।

hammer candlestick pattern in hindi

इसका इस्तेमाल सभी Trader करते हैं इसका आकार काफी बड़ा होता है और उसकी बॉडी छोटी होती है लेकिन लेवर शैडो उसकी बॉडी के मुकाबले दुगनी या उससे अधिक भी होती है इसका कोई अपर शैडो नहीं होता है और अगर होता भी है तो उसका आकार काफी छोटा होता है।

Hammer Candlestick, Bullish और Bearish भी हो सकता है। हैमर कैंडल Down trade के बाद आता है इसका रंग ग्रीन या रेड हो सकता है अगर हैमर कैंडल एक डाउनट्रेंड के बाद आता है तो उस कैंडल का रंग का कोई महत्व नहीं होता है उसे Bullish ही माना जाता है।

हैमर कैंडल एक ट्रेंड रिवर्सल कैंडल है यह कैंडल दर्शाता है कि मंदी का समय बीत चुका है और तेजी का दौर आने वाला है। हैमर  कैंडल में उपस्थित लोगों से जो इस बात का संकेत देता है कि शेयर को बेचने वाला व्यक्ति शेयर के प्राइस को नीचे लेकर आए लेकिन शेयर खरीदने वाला व्यक्ति इसके प्राइस को ऊपर खींच कर ले जाता है।

इसका सीधा मतलब होता है कि बेचने वाले व्यक्ति में इतना दम नहीं है कि वह शेयर के दाम को नीचे लेकर आ सके। Hammer candle जब एक गिरावट के बाद बनता है तो उसे हम लोग Hammer Bullish कहते हैं  इसमें कलर का कोई विशेष बात नहीं है इसके विपरीत up trade के बाद हैमर कैंडल बनता है।

तो उसे हम लोग hanging man कहते हैं जब हैमर का रंग हरा होता है तो उसे हम लोग Bullish Hammer कहते हैं जबकि इसका रंग अगर लाल होता है तो इसे हम लोग हैंगिंग मैन के नाम से जानते हैं Hanging Man की पोजीशन हमेशा ऊपर रहती है और Bullish Hammer की पोजीशन नीचे की तरफ होती है।

Hammer Candle बनने के बाद क्या करें?

Hammer candle बनने के बाद आपको तुरंत शेयर बाजार में stock को खरीदना चाहिए क्योंकि इस समय शेयर बाजार के अधिकांश शेयरों के दाम अपेक्षाकृत कम होते हैं। 

Hammer Candle से Trade कैसे करें?

अब आपके मन मे सवाल आएगा कि Hammer Candle शेयर बाजार में Trading कैसे करेंगे तो मैं आपको सलाह दूंगा कि कुछ भी करने से पहले आप अपने Share Market के एक्सपर्ट से जरूर सलाह मशवरा कर ले तभी जाकर आप यहां पर ट्रेडिंग करें नहीं तो आपको फायदे की जगह नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

वैसे तो मैं आपको बता दूं कि अगर Up Trade लंबा शैडो बनेगा तब आप Short Selling कर शेयर बाजार में प्रवेश कर सकते हैं लेकिन इसके साथ आपको Technical analysis भी करना होगा तभी आप को यहां पर मुनाफा मिल पाएगा। 

Hammer Candle बनने के पीछे कारण क्या है?

  • जब Market पर खरीदारी करने वाले लोगों का कब्जा हो जाता है तब मार्केट नीचे की तरफ जाता है। 
  • जब Market निचे गिर रहा होता है तो प्रत्येक दिन मार्केट नीचे की तरफ जाता है और 1 दिन मार्केट सबसे न्यूनतम पर बंद होता है। 
  • जिस किसी दिन एक Hammer बनता है तो उस दिन भी मार्केट नीचे ही ट्रेड करता है और मार्केट नीचे की तरफ बंद होता है। 
  • Market नीचे होने के बाद अगर कुछ खरीदारी होती है तो मार्केट में थोड़ा सा उछाल भी आता है। 
  • जिस दिन Hammer Candle बनता है उस दिन कीमतों में काफी उतार चढ़ाव होता है क्योकि ये Bullish शेयर के कीमतों को नीचे जाने से रोकता है। 
  • Bulls हमेशा मार्किट के मूड को सुधारने में मदद करती है और ऐसे में आपको खरीदारी करनी चाहिए। 

इन्हें भी पढ़े –

Hammer Candle के मुताबिक हमें सौदा किस प्रकार करना चाहिए?

Hammer बनने पर निम्नलिखित प्रकार का संकेत आपको प्राप्त होगा जिसका विवरण मैं आपको नीचे दे रहा हूं जो इस प्रकार है। 

  • समझदार और स्मार्ट Trader उसी दिन Share खरीदते हैं जिस दिन Hammer की स्थिति उत्पन्न होती है इसके बाद उन्हें Share को कब बेचना है ये उनके ऊपर निर्भर करता है। 
  • रिस्क लेने वाले ट्रेडर हमेशा Hammer Candle की स्थिति बनने पर अधिक मात्रा में शेयर को खरीद कर रख लेते हैं। 
  • रिस्क लेने बाला ट्रेडर उसी दिन Hammer के बनने के बाद 3:50 पर ये देखेगा की ओपनिंग और क्लोजिंग दोनों एक बराबर है और दोनों के बीच 2 परसेंट का अंतर है है की नहीं। 
  • Hammer में लोअर शैडो की लंबाई रियल बॉडी की लंबाई से दुगनी होनी चाहिए। 
  • ऊपर बताए गए कंडीशन को अगर आप पूरा करते हैं तो आप आसानी से trade कर पाएंगे
  • जो ट्रेडर रिस्क से बचना चाहता है तो वो अगले दिन OHLC (Open-high-low-close chart) पर नजर डालेगा और देखेगा की Candle नीले रंग का है की नहीं अगर है तो trade करेगा। 

FAQ’s –

Q. हैमर कैंडल बनने के बाद क्या करे?

Ans – Hammer candle बनने के बाद आपको तुरंत शेयर बाजार में stock को खरीदना चाहिए क्योंकि इस समय Share Market के अधिकांश शेयरों की Price अपेक्षाकृत होते है।  

Q. हैमर कैंडल में किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

Ans – समझदार और स्मार्ट Trader उसी दिन Share खरीदते हैं जिस दिन Hammer की स्थिति उत्पन्न होती है इसके बाद उन्हें Share को कब बेचना है ये उनके ऊपर निर्भर करता है। रिस्क लेने वाले ट्रेडर हमेशा Hammer Candle की स्थिति बनने पर अधिक मात्रा में शेयर को खरीद कर रख लेते हैं। 

Q. हैमर कैंडल का मतलब क्या होता है?

Ans – हैमर कैंडलस्टिक एक खास तरह का कैंडलस्टिक पैटर्न होता है जो कि एक संभावित ट्रेंड के उलटफेर को व्यक्त करता है। चूँकि ये गिरावट के साथ बनता है। इसलिए ट्रेडर मार्किट में तेज़ ट्रेंड की वापसी के साथ हैमर को जोड़ते हैं। ये लम्बी निचली छाया के साथ एक छोटी हरी कैंडल होती है। जो बाजार द्वारा कम कीमत की अस्वीकृति की ओर इशारा करता है।

निष्कर्ष –

उम्मीद करता हूँ आपको ये आर्टिकल अच्छा और ज्ञानवर्धक लगा होगा दोस्तों, आप जब भी Share Market में Share को ख़रीदे तो हमेशा Hammer Candle का ध्यान रखे हैमर कैंडल बनने के बाद आप तुरंत शेयर को खरीद सकते है क्यूंकि इस समय Shares की कीमत कम होती है। अगर आपको ये आर्टिकल से आपको जरा सा भी जानकारी मिली है है तो इसे आप अपने दोस्तों,सग्गे सम्बन्धियों के साथ साथ सोशल मीडिया साइट्स पर भी जरूर शेयर करें धन्यवाद!

Read More –

Businessguidehindi
Businessguidehindihttps://businessguidehindi.com
नमस्कार दोस्तों, मैं Rahul Niti एक Professional Blogger हूँ और इस ब्लॉग का Founder, Author हूँ. यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूं। ये ब्लॉग आपको बिज़नेस आइडियाज, मेक मनी, इन्वेस्टमेंट, फाइनेंस और अन्य प्रकार की जानकारिया देता है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Recent Post